पत्रकारों को मोदी सरकार की सौगात

भले ही तीसरे प्रेस आयोग का गठन हो या न हो, लेकिन मोदी सरकार ने पत्रकारों का दिल जीतने की कवायद में एक कदम और बढ़ा दिया है। सरकार ने पत्रकार कल्याण समिति का गठन किया है। इसमें भारतीय प्रेस परिषद और न्यूज ब्रॉडकास्ट एसोसिएशन के प्रतिनिधि शामिल किए गए हैं। इसके अलावा इसमें कई और पत्रकारों को शामिल किया गया है।  दैनिक जागरण से प्रशांत मिश्रा, टाइम्स नाउ से नविका गुप्ता, एबीपी न्यूज से कंचन गुप्ता द पायनियर से जे गोपीकृष्ण और एएऩआई से स्मिता प्रकाश को सदस्य बनाया गया है। समिति के सदस्यों का कार्यकाल दो साल का है। इसमें सूचना एवं प्रसारण  मंत्रालय के सचिव , कार्मिक विभाग के संयुक्त सचिव और पत्र सूचना ब्यूरो के महानिदेशक आधिकारिक सदस्य  होंगे। इसके साथ ही सरकार ने पत्रकारों को मान्यता देने के लिए एक समिति का भी पुनर्गठन किया है। बता दें कि इस बार सरकार ने पत्रकारों के कल्याण के लिए एक करोड़ की राशि तय की है जबकि इसके पहले ये राशि 20 लाख रुपए थी। राशि बढ़ने से अब जरूरतमंद पत्रकारों को समय पर सहायता मिल सकेगी। 

Comments