BREAKING NEWS

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सोमवार को भोपाल दौरे पर
बसपा नेता मायावती ने भीम सेना प्रमुख की आलोचना की। जम्मू-कश्मीर में पंचायत चुनाव 9 चरणों में होंगे। नई दिल्ली- गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने एम्स जाकर गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की सेहत की जानकारी ली। चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर जदयू में शामिल।

जैव ईंधन नीति की पुस्तिका का विमोचन


नई दिल्ली: विश्व जैव ईंधन दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किसानों, वैज्ञानिकों,
उद्यमियों, छात्रों, अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों की एक सभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय जैव ईंधन नीति 2018 की पुस्तिका का विमोचन भी किया और पर्यावरण मंत्रालय के डिज़िटल प्लेटफॉर्म परिवेशका भी शुभारंभ किया। इस मौके पर केन्द्रीय सड़क, परिवहन और राजमार्ग, जहाजरानी, जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी, उपभोक्ता मामले, खाद्य और जनवितरण मंत्री रामविलास पासवान, केन्द्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री राधामोहन सिंह, विज्ञान और प्रौद्योगिकी, पृथ्वी विज्ञान और पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री डॉ. हर्षवर्द्धन, केन्द्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस और कौशल विकास तथा उद्यमिता मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान भी उपस्थित थे। पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि जीवाश्म ईंधन के विकल्प के रूप में गैर जीवाश्म ईंधन को लेकर लोगों में जागरूकता पैदा करना है। उन्होंने कहा कि उनके मंत्रालय का मकसद पर्यावरण को बचाना और किसानों की आमदनी बढ़ाना है। इस अवसर पर उन्होंने मोदी सरकार के चलाए जा रहे कार्यक्रमों और योजनाओं की चर्चा की। पेट्रोलियम मंत्री ने कहा कि सरकार ने नई राष्ट्रीय जैव ईंधन नीति 2018 अधिसूचित कर दी है, जिसके तहत 2030 तक 20 प्रतिशत एथनॉल मिश्रण का लक्ष्य रखा गया है। नई नीति में एथनॉल के लिए कच्चे माल की उपलब्धता का दायरा और व्यापक बना दिया गया।

Comments