2 अक्टूबर को स्कूलों के सफाईकर्मी सम्मानित होंगे

मध्य प्रदेश में 15 सितम्बर से 'स्वच्छता ही सेवा' पखवाड़ा मनाया जा रहा है। इस दौरान सरकारी स्कूलों की
साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। महात्मा गांधी की जयंती 2 अक्टूबर को प्रदेश भर की सरकारी शालाओं में कार्यरत सफाई-कर्मियों का पुष्प भेंट कर सम्मान किया जाएगा। इसके साथ ही इसी दिन स्वच्छता पर केन्द्रित अनेक कार्यक्रम भी होंगे। इन कार्यक्रमों में अधिक से अधिक छात्रों के साथ स्थानीय जनप्रतिनिधियों को भी शामिल किये जाने के निर्देश राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा जिलों में पदस्थ विभागीय अधिकारियों को दिये गये हैं। सरकारी स्कूलों में शौचालयों की नियमित सफाई के लिये विभाग की ओर से राशि भी जारी की गई है। इसके साथ ही स्कूल परिसर में सफाई व्यवस्था को बनाये रखने के लिये स्कूल के क्लस्टर पर आधारित स्वच्छता एक्शन प्लान बनाये जाने के निर्देश दिये गये हैं। स्कूल में सफाई के महत्व पर केन्द्रित भाषण, चित्रकला सम्मेलन, बाल संसद की गतिविधियों को करने पर जोर दिया गया है। इसके लिये यूनीसेफ से प्राप्त सहायता और जिले में उपलब्ध मोबिलाइजेशन फण्ड का उपयोग इन गतिविधियों को करने के लिये कहा गया है। इसके साथ ही प्रदेश में स्वच्छ विद्यालय अभियान के अंतर्गत प्रत्येक प्राथमिक, माध्यमिक, हाई एवं हायर सेकण्डरी विद्यालय में बालक एवं बालिकाओं के लिये अलग-अलग शौचालय की व्यवस्था की जा रही है। अब तक इस अभियान के तहत 58 हजार से अधिक शौचालयों को निर्माण किया जा चुका है। सरकारी स्कूलों में 35 हजार शौचालयों का निर्माण तेजी से किया जा रहा है। 

Comments