ओडिशा और छत्तीसगढ़ को पीएम मोदी की सौगात

भुवनेश्वरः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को ओडिशा और छत्तीगढ़ के दौरे पर रहे। पीएम शनिवार को सबसे
पहले ओडिशा के भुवनेश्वर पहुंचे, जहां से वो तलचर के लिए रवाना हुए। तलचर में प्रधानमंत्री ने उर्वरक कारखाने की आधारशिला रखी। उर्वरक संयंत्र की लागत 13 हजार करोड़ है। पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें बताया गया है कि ये संयंत्र 36 महीने में पूरा हो जाएगा। पीएम ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि वो अगले 36 महीने बाद 
एक बार फिर तलचर आएंगे और उर्वरक संयंत्र का उद्घाटन करेंगे। मोदी ने कहा कि कोयला गैसिफिकेशन के द्वारा यहां के इस काले डायमंड को एक नई प्रौद्योगिकी के द्वारा न सिर्फ इस क्षेत्र को बल्कि देश को भी नई दिशा मिलने वाली है। देश को बाहर से जो गैस लाना पड़ता है, यूरिया लाना पड़ता है, उससे भी मुक्ति मिलेगी और बचत होगी। इस संयंत्र के शुरू होने से युवाओं को रोजगार मिलेगा। करीब साढ़े चार हजार लोग इस 
प्रोजेक्ट से जुड़ेंगे। इस संयंत्र के चलते आसपास के इलाके विकसित होंगे। मोदी ने बताया कि उनकी सरकार की प्राथमिकता है कि 2022 तक सभी को घर मिल जाए। वहीं कटक, बुर्ला, बहराम मेडिकल कॉलेज के आधुनिकीकरण के लिए 360 करोड़ रुपए खर्च करने की बात कही। इसके अलावा पांच मेडिकल कॉलेज खोलने 
की भी घोषणा की। ये मेडिकल कॉलेज बालासोर, बारीपडा, बोलांगीर, कोरापुट और पुरी में मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा पहुंचे जहां उन्होंने रेल और सड़क परियोजनाओं की सौगात दी। इन परियोजनाओं पर 307 करोड़ की लागत आएंगी। यहां अटल विकास यात्रा के तहत प्रधानमंत्री
नरेंद्र मोदी ने किसानों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने जमकर अपनी सरकार की योजनाओं की तारीफ की। 

Comments