कौशल विकास से समाज का विकास होगा: उपराष्ट्रपति

तमिलनाडु: उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने पोलाची स्थित नचीमुत्‍थू इंडस्‍ट्रीयल एसोसिएशन यानि NIA
द्वारा संचालित शैक्षणिक संस्‍थानों के हीरक जयंती समारोह के समापन कार्यक्रम में शामिल हुए। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कौशल विकास एक निरंतर प्रक्रिया होनी चाहिए और नई खोज लोगों के जीवन को बेहतर बनाने में मददगार होनी चाहिए। उपराष्ट्रपति ने संस्‍थान के संस्‍थापक अरुतचेलवर डॉ. एन. महालिंगम को एक आदर्श व्‍यक्ति बताते हुए कहा कि इस तरह के गुणों का वर्तमान पीढ़ी के युवाओं और राजनीतिज्ञों को अनुसरण करना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि चरित्र, क्षमता, सामर्थ्‍य और आचरण सार्वजनिक जीवन में लोगों के लिए मार्गदर्शी सिद्धांत होना चाहिए। उपराष्ट्रपति ने शहरों और गांवों के बीच बढ़ती खाई पर चिंता जताई। इससे पहले उपराष्‍ट्रपति ने परिसर में डायमंड जुबली ब्‍लॉक और मि‍राकल वेलनैस क्लिनिक का उद्घाटन किया और डॉक्‍टरों से क्लिनिक में मौजूद सुविधाओं और मरीजों को दिए जा रहे इलाज के बारे में जानकारी ली। इस अवसर पर तमिलनाडु के ग्रामीण विकास और पंचायत राज मंत्री एस. पी. वेलूमणि, NIA के अध्‍यक्ष डॉ. एम. मणिकम, NIA के सचिव डॉ. सी. रामास्‍वामी, छात्र संकाय के सदस्‍य समेत कई लोग मौजूद थे।  

Comments