शिक्षा से ही महिला सशक्तिकरण संभव: उपराष्ट्रपति

हैदराबाद में यूनिवर्सिटी कॉलेज फॉर वुमेन के दीक्षांत समारोह में उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू शामिल हुए।
इस अवसर पर उन्होंने कहा कि अगर महिलाएं पिछड़ी रही तो कोई भी देश प्रगति नहीं कर सकता। एक महिला को शिक्षित करने से केवल एक व्यक्ति नहीं बल्कि पूरा परिवार सशक्‍त बनता है। उपराष्ट्रपति ने शिक्षा को सामाजिक बदलाव का माध्यम बताया।  उन्होंने कहा कि महिलाओं का सशक्तिकरण शिक्षा के जरिए ही होगा। उपराष्ट्रपति ने कहा कि देश की आधी आबादी को अपनी बात कहने और सुनने का पूरा मौका दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि महिलाओँ को सशक्त बनाना एक तरह से पूरे समाज का दायित्व है। उपराष्ट्रपति ने कहा कि शिक्षा सिर्फ रोजगार के लिए नहीं होती बल्कि इससे व्यक्ति के ज्ञान और बौद्धिक क्षमता का विकास होता है जिससे वह सशक्त बनता है। दीक्षांत समारोह में तेलंगाना के उपमुख्यमंत्री मोहम्मद महमूद अली, उस्मानिया विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर एस. रामा चन्द्रन और यूनिवर्सिटी कॉलेज फॉर वुमेन की प्रिंसिपल प्रोफेसर रोजा रानी सहित कई लोग मौजूद थे। 

Comments