तीन अफ्रीकी देशों की यात्रा पर उपराष्ट्रपति

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू 31 अक्टूबर से 6 नवंबर तक तीन अफ्रीकी देशों की यात्रा पर हैं। सप्ताह भऱ की
अपनी यात्रा के दौरान वे बोत्सवाना, जिम्मबाब्वे और मलावी जाएंगे। उनकी इस यात्रा से तीनों देशों के भारत के साथ संबंध और मजबूत होंगे। माना जा रहा है कि उपराष्ट्रपति अपनी इस यात्रा के दौरान वहां के कारोबारियों को भारत में निवेश का न्योता दे सकते हैं। उपराष्ट्रपति तीनों देशों के राष्ट्राध्यक्षों से बातचीत करेंगे, व्यापारियों से मिलेंगे और भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे। उपराष्ट्रपति के साथ उच्चस्तरीय संसदीय शिष्टमंडल भी गया है जिसमें सामाजिक न्याय राज्यमंत्री और अधिकारिता मंत्री कृष्णपाल गुर्जर और चार संसद सदस्य शामिल हैं। उपराष्ट्रपति बोत्सवाना की राजधानी गैबोरॉन में 13वीं वार्षिक ग्लोबल एक्सपो का उद्घाटन करेंगे। इस प्रदर्शनी में भारत की आर्थिक और औद्योगिक क्षमता प्रदर्शित करने के लिए पहली बार 25 भारतीय कंपनियां भाग ले रही हैं। 1 नवंबर को नायडू बोत्सवाना के उपराष्ट्रपति स्लम्बर त्सोगवाने के साथ प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत में भाग लेंगे। वे बैसागो विश्वविद्यालय में बैसागो कन्वेंशन सेंटर में भारतीय समुदाय को संबोधित भी करेंगे। 2 नवंबर को उपराष्ट्रपति भारत-बोत्सवाना राउंटेबल बैठक में हिस्सा लेंगे। वे दोनो देशों के व्यापारियों और निवेशकों के साथ भी बातचीत करेंगे। नायडू जिम्बाब्वे की राजधानी हरारे के लिए रवाना होने से पहले बोत्सवाना गणराज्य के राष्ट्रपति मोगवीत्सी एरिक कीबेत्सी से भेंट करेंगे। 3 नवंबर को उपराष्ट्रपति जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति एमर्सन मनंगाग्वा से भेंट करेंगे और बाद में वहां के उपराष्ट्रपति डॉ. कोस्टैंटिनो के साथ बैठक करेंगे। दोनो उपराष्ट्रपतियों की बैठक में कुछ समझौतों पर हस्ताक्षर होने की संभावना है। 5 नवंबर को उपराष्ट्रपति भारत मलावी व्यापार बैठक में भाग लेंगे। बाद में वे मलावी के राष्ट्रपति पीटर आर्थर मुथारिका के साथ बातचीत करेंगे।

Comments