भारत-पुर्तगाल के बीच द्विपक्षीय बातचीत

ब्रुसेल्स: उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने ईयू मुख्यालय में पुर्तगाल के प्रधानमंत्री एन्टोनियो कोस्टा के साथ
द्विपक्षीय स्तर की बातचीत की। उपराष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री कोस्टा को जनवरी 2017 में भारत की यात्रा के बारे में याद दिलाया जब उन्हें प्रवासी भारतीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। उन्होंने भारत-पुर्तगाल संबंधों को और दृढ़ बनाने के लिए पीएम कोस्टा की तारीफ की। उपराष्ट्रपति ने पूरे विश्व में महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाने के लिए बनाई गई समिति में शामिल होने के लिए पीएम कोस्टा को धन्यवाद दिया। उपराष्ट्रपति ने पीएम कोस्टा को भारत सरकार के विकास कार्यक्रमों जैसे "बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ" और स्वच्छ भारत के साथ मेक-इन-इंडिया, डिजिटल इंडिया कार्यक्रमों के बारे में चर्चा की। प्रधानमंत्री कोस्टा ने कहा कि वे द्विपक्षीय संबंधों की बढ़ती मजबूती से काफी खुश हैं। उन्होंने कहा कि भारत-पुर्तगाल द्विपक्षीय व्यापार तेजी से बढ़ रहा है और पुर्तगाली कंपनियों को भारतीय बाजार में काफी संभावना दिखाई दे रही हैं, लिहाजा वो पुर्तगाली कंपनियों को भारत में निवेश करने के लिए प्रेरित करेंगे। वहीं उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने आधुनिक टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में भारत और पुर्तगाल के बीच सहयोग पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि रक्षा, अंतरिक्ष, आधारभूत संरचना और स्टार्टअप जैसे क्षेत्र हैं जो संभावित व्यावसायिक अवसर प्रदान करते हैं। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता के लिए अपना समर्थन फिर से देने के लिए पुर्तगाल का आभार जताया। बता दें कि उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू इस समय ASEM सम्मेलन में भाग लेने के लिए ब्रुसेल्स में है।



Comments