गुवाहाटी क्रिकेट वन डे- भारत ने वेस्टइंडीज को 8 विकेट से हराया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर पर फहराया तिरंगा, कांग्रेस पर लगाया आरोप, कहा-एक परिवार ने सपूतों के बलिदान को भुला दिया। यौन शोषण के आरोप के चलते संगीतकार अन्नू मलिक को इंडियन आइडल शो से हटाया गया। कश्मीर में आतंकियों के साथ मुठभेड़, 7 नागरिकों की मौत, तीन आतंकी ढेर। अमृतसर रेल हादसा: गुस्साई भीड़ ने यातायात बाधित किया। रूस के साथ परमाणु संधि खत्म कर रहा अमेरिका। अफगानिस्तान: चुनाव के दौरान 67 लोगों की मौत, 126 लोग घायल। चीन के कोयला खदान में 22 मजदूर फंसे, बचाव अभियान जारी।
भारत के संविधान के निर्माण में 2 साल 11 महीना और 18 दिन का समय लगा था। शुरू में 395 अनुच्छेद 22 भाग और 8 अनुसूचियां थीं। संविधान सभा के कुल सदस्यों की संख्या 389 थी जिनमें 292 ब्रिटिश प्रांत 93 देसी रियासत और 4 कमिश्नर क्षेत्र के प्रतिनिधि शामिल थे। संविधान सभा का पहला अधिवेशन 9 दिसंबर 1946 को हुआ जिसकी अध्यक्षता डॉ. सच्चिदानंद सिन्हा ने की थी। डॉ. राजेंद्र प्रसाद को 11 दिसंबर 1946 को संविधान सभा का स्थायी अध्यक्ष चुन लिया गया।
गुवाहाटी वन डे में विरोट कोहली और रोहित के शतक की बदौलत टीम इंडिया विजयी। वेस्टइंडीज को 8 विकेट से हराया।

राष्ट्रपति से मिले लिकटेंस्टीन के राजकुमार

नई दिल्ली: लिकटेंस्टीन के राजकुमार एलोइस ने राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद से राष्‍ट्रपति भवन में
मुलाकात की। एलोइस का स्‍वागत करते हुए राष्‍ट्रपति ने कहा कि उनकी यात्रा विशेष महत्व रखती है क्‍योंकि दोनों देश अपने कूटनीतिक सम्‍बन्‍धों की स्‍थापना की 25वीं वर्षगांठ बना रहे हैं।     राष्‍ट्रपति ने कहा कि भारत लिकटेंस्टीन के साथ अपने आर्थिक सम्‍बन्‍धों को मजबूत बनाने का इच्‍छुक है। उन्‍होंने लिकटेंस्टीन की कम्‍पनियों को भारत की विकास का लाभ उठाने के लिए आमंत्रित किया। इस दौरान लिकटेंस्टीन के राजकुमार ने दोनों देशों के  बीच द्विपक्षीय को और मजबूत बनाने पर जोर दिया। राष्ट्रपति बनने के बाद रामनाथ कोविंद की लिकटेंस्टीन के राजकुमार एलोइस के साथ ये पहली मुलाकात थी । राष्ट्रपति ने इस मुलाकात को काफी अहम बताया। 

Comments