आंकड़ों में दिखती है रेलवे की लापरवाही !

नई दिल्ली: यदि आप रेलवे के AC कोच में सफर करते हैं तो सावधान हो जाइए, कोई आपके सामान पर भी
हाथ साफ कर सकता है। जी हां रेलवे ने चौंकाने वाला आकड़ा जारी किया है। पिछले एक साल में लोगों ने एसी डिब्बों से तौलिया, चादर, कंबल और तकिया गायब कर दिया। इसका मतलब साफ है कि एसी में सिर्फ सभ्य और अच्छे लोग ही सफर करते हैं ऐसा नहीं है। रेलवे के ये आकड़े बताने के लिए काफी हैं कि एसी कोच में किस तरह के लोग सफर करते हैं। रेलवे के मुताबिक पिछले वित्तीय वर्ष में देशभर में ट्रेनों के एसी कोचों से करीब 21 लाख 72 हजार 2 सौ 46 शयनयान के सामान गायब हो गए जिनमें 12 हजार 83 हजार 4 सौ 15 तौलिए 4 लाख 71 हजार 77 चादर और 3 लाख 14 हजार 9 सौ 52 तकिए का कवर चुरा लिए गए। इसके अलावा 56 हजार 2 सौ 87 तकिए और 46 हजार 5 सौ 15 कंबल गायब हैं। यानि एक साल के अंदर करीब 14 करोड़ रुपए का सामान गायब हो गया है। रेलवे को चूना लगाने वाले चोर यात्रियों का जोन वाइज विवरण उपलब्ध है। 16 जोनों में से सिर्फ दक्षिणी जोन में 2 लाख 4 हजार 1 सौ 13 तौलिए और 29 हजार 5 सौ 73 चादर चोरी हो गए। इसी तरह 44 हजार 8 सौ 68 तकिए के कवर लेकर यात्री चलते बने। 3 हजार 7 सौ 13 तकिए और 2 हजार 7 सौ 45 कंबल रेलवे के सम्मानित यात्रियों ने चोरी कर लिए।  उत्तरी जोन में 85 हजार 3 सौ 27 तौलिए, 38 हजार 9 सौ 16 चादर, 25 हजार 3 सौ  13 तकिए के कवर, 3 हजार 2 सौ 24 तकिए और 2 हजार 4 सौ 83 कंबल चुरा लिए गए। कुछ ऐसा ही हाल पूर्वी जोन का भी है जहां 1 लाख 31 हजार 3 सौ 13 तौलिए, 20 हजार 2 सौ 58 चादर, 9 हजार 6 तकिए के कवर, 1 हजार 5 सौ 17 तकिए और 1 हजार 9 सौ 13 कंबलों की चोरी हुई। पूर्वी तटीय रेलवे में 43 हजार 3 सौ 18 तौलिए, 23 हजार 1 सौ 97 चादर, 8 हजार 60 तकिए के कवर और 2 हजार 2 सौ 60 कंबल यात्रियों ने गायब कर दिए। दक्षिण मध्य जोन में 95 हजार 7 सौ तौलिए, 29 हजार 7 सौ 47 चादर, 22 हजार 3 सौ 23 तकिए के कवर, 3 हजार 3 सौ 52 तकिए और 2 हजार 4 सौ 63 कंबल चुरा लिए गए। ये आंकड़े बताने के लिए काफी हैं कि भारतीय यात्रियों में चोरों की कमी नहीं है। यहां नैतिक आचरण की कमी साफ देखी जा सकती है। ऐसे में रेलवे ने जो आंकड़े जारी किए हैं उसमें वो भी कहीं न कहीं जिम्मेदार है। सार्वजनिक संपत्ति की चोरी हो रही है और आपका ध्यान नहीं है। गौरतलब है कि एसी कोच में अटेंडेंट होते हैं, लेकिन ड्यूटी पर उनका लापरवाही भरा रवैया रहता है। वे चादर, कंबल, तकिये का कवर तो दे देते हैं, लेकिन उसके बाद ये ध्यान नहीं रखते कि चादर, कंबल, तकिए का कवर ये सब कोच में है या गायब कर दिए गए। जब कोच का अटेंडेंट ही गायब रहेगा तो ऐसी घटनाएं तो होती रहेंगी। इतना तो ध्यान रखना पड़ेगा कि पांचों उंगलियां बराबर नहीं होती। ऐसे ही जितने यात्री एसी कोच से सफर करते हैं ये कोई जरूरी नहीं कि सभी चोर हों, लेकिन इतना तो जरूर कहा जा सकता है कि इन एसी कोचों में यात्रा करने वालों में कुछ यात्री चोर भी होते हैं ऐसे में रेलवे को इस पहलू पर गौर करना होगा कि सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले इन चोरों से कैसे  निपटा जाए ?

Comments

(4 जनवरी- विश्व ब्रेल दिवस) (9 जनवरी- प्रवासी भारतीय दिवस) (10 जनवरी- विश्व हास्य दिवस) (12 जनवरी- राष्ट्रीय युवा दिवस) (15 जनवरी- भारतीय थल सेना दिवस) (24 जनवरी- राष्ट्रीय बालिका दिवस) (25 जनवरी- राष्ट्रीय मतदाता दिवस) (26 जनवरी- गणतंत्र दिवस) (28 जनवरी-अंतरराष्ट्रीय कुष्ठ निवारण दिवस) (30 जनवरी- शहीद दिवस, विश्व कुष्ठ उन्मूलन दिवस) ----- (2 फरवरी- विश्व आद्रभूमि दिवस) (4 फरवरी- विश्व कैंसर दिवस) (7 फरवरी- सुरक्षित इंटरनेट दिवस) (10 फरवरी- राष्ट्रीय कृमि उन्मूलन दिवस) (11 फरवरी- अंतरराष्ट्रीय महिला एवं बालिका विकास दिवस) (12 फरवरी- राष्ट्रीय उत्पादकता दिवस) (13 फरवरी- विश्व रेडियो दिवस) (20 फरवरी- विश्व सामाजिक न्याय दिवस) (21 फरवरी- अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस) (24 फरवरी- केंद्रीय उत्पाद दिवस) (28 फरवरी- राष्ट्रीय विज्ञान दिवस) ----- (3 मार्च- विश्व वन्यजीव दिवस) (4 मार्च- यौन शोषण के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय दिवस) (8 मार्च- अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस) (10 मार्च-CISF राइजिंग दिवस) (13 मार्च- विश्व किडनी दिवस) (15 मार्च- विश्व उपभोक्ता अधिकार दिवस, विश्व दिव्यांग दिवस) (20 मार्च- विश्व गौरैया दिवस, अंतरराष्ट्रीय प्रसन्नता दिवस) (21 मार्च- विश्व वानिकी दिवस, विश्व कविता दिवस) (22 मार्च- विश्व जल दिवस) (23 मार्च- विश्व मौसम दिवस, भारतीय शहीद दिवस) (24 मार्च- विश्व क्षय रोग दिवस) (26 मार्च- विश्व कठपुतली दिवस) (27 मार्च- विश्व थियेटर दिवस) ----- (4 अप्रैल- अंतरराष्ट्रीय खनन जागरूकता दिवस) (5 अप्रैल- अंतरराष्ट्रीय मेरीटाइम दिवस) (6 अप्रैल- विकास एवं शांति के लिए अंतरराष्ट्रीय खेल दिवस) (7 अप्रैल- विश्व स्वास्थ्य दिवस) (17 अप्रैल- विश्व हिमोफीलिया दिवस) (18 अप्रैल- विश्व विरासत दिवस) (21 अप्रैल- सचिवालय दिवस, सिविल सेवा दिवस) (22 अप्रैल- पृथ्वी दिवस) (23 अप्रैल- विश्व पुस्तक और कॉपीराइट दिवस) ---- (1 मई- विश्व मजदूर दिवस) (3 मई- विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस) (8 मई- रेडक्रास दिवस) (10 मई- विश्व प्रवासी पक्षी दिवस) (15 मई- अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस) (17 मई- विश्व दूरसंचार दिवस) (21 मई- आतंकरोधी दिवस) (22 मई- विश्व जैविक विविधता दिवस) (23 मई- विश्व कछुआ दिवस) (24 मई- राष्ट्रमंडल दिवस) (29 मई-अंतरराष्ट्रीय यू एन शांतिरक्षक दिवस) (31 मई- तंबाकू निषेध दिवस) ----- (1 जून- विश्व अभिभावक दिवस) (3 जून- विश्व साइकिल दिवस) (5 जून- विश्व पर्यावरण दिवस) (8 जून- विश्व महासागर दिवस) (12 जून- बाल श्रम के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय दिवस) (14 जून- विश्व रक्तदाता दिवस) (17 जून- फाडर्स डे) (19 जून- राष्ट्रीय पठन-पाठन दिवस) (20 जून- विश्व शरणार्थी दिवस) (21 जून- अंतरराष्ट्रीय योग दिवस) (23 जून- संयुक्त राष्ट्र जन सेवा दिवस) (26 जून- नशीली दवाओं और तस्करी के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय दिवस) (27 जून- संयुक्त राष्ट्र MSME दिवस) (29 जून- राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस) (30 जून- अंतरराष्ट्रीय एस्टेरॉयड दिवस) ----- (1 जुलाई- डॉक्टर्स डे, GST दिवस) (6 जुलाई- विश्व पशुजन्य रोग दिवस) (11 जुलाई- विश्व जनसंख्या दिवस) (18 जुलाई- अंतरराष्ट्रीय नेल्सन मंडेला दिवस) (6 अगस्त- हिरोशिमा दिवस) (7 अगस्त- राष्ट्रीय हस्तकरघा दिवस) (9 अगस्त- भारत छोड़ो दिवस) (12 अगस्त- अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस, विश्व हाथी दिवस) (15 अगस्त- स्वतंत्रता दिवस) (19 अगस्त- विश्व मानवतावादी दिवस, विश्व फोटोग्राफी दिवस) (20 अगस्त- सदभावना दिवस) (21 अगस्त- विश्व फैशन दिवस) (29 अगस्त-राष्ट्रीय खेल दिवस, परमाणु परीक्षणों के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय दिवस) (5 सितंबर-राष्ट्रीय शिक्षक दिवस) (8 सितंबर- विश्व साक्षरता दिवस) (14 सितंबर- हिन्दी दिवस) (15 सितंबर- विश्व लोकतंत्र दिवस) (16 सितंबर- विश्व ओजोन परत संरक्षण दिवस) (21 सितंबर- विश्व शांति दिवस) (27 सितंबर- विश्व पर्यटन दिवस) (28 सितंबर- विश्व रेबीज दिवस) (29 सितंबर- विश्व हृदय दिवस) ----- (2 अक्टूबर-गांधी जयंती, विश्व अहिंसा दिवस, लालबहादुर शास्त्री जयंती) (3 अक्टूबर- विश्व प्रकृति दिवस) (5 अक्टूबर- विश्व आवास दिवस, विश्व शिक्षक दिवस) (8 अक्टूबर- भारतीय वासुसेना दिवस) (9 अक्टूबर- विश्व डाक दिवस) (11 अक्टूबर-अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस) (15 अक्टूबर- अंतरराष्ट्रीय ग्रामीण महिला दिवस) (16 अक्टूबर- विश्व खाद्य दिवस) (17 अक्टूबर- विश्व गरीबी उन्मूलन दिवस) (20 अक्टूबर- विश्व सांख्यिकी दिवस) (21 अक्टूबर- पुलिस स्मृति दिवस) (24 अक्टूबर- संयुक्त राष्ट्र स्थापना दिवस, विश्व विकास सूचना दिवस) (31 अक्टूबर-राष्ट्रीय एकता दिवस, सरदार बल्लभभाई पटेल जयंती) ----- (10 नवंबर- अंतरराष्ट्रीय मलाला दिवस) (12 नवंबर- राष्ट्रीय पक्षी दिवस) (14 नवंबर- बाल दिवस, विश्व मधुमेह दिवस) (19 नवंबर- अंतरराष्ट्रीय नागरिक दिवस) (20 नवंबर- अंतरराष्ट्रीय बाल दिवस) (25 नवंबर- महिलाओं के खिलाफ हिंसा उन्मूलन के लिए अंतरराष्ट्रीय दिवस) (26 नवंबर- विश्व पर्यावरण संरक्षण दिवस, गुरु नानक देव जयंती, राष्ट्रीय विधि दिवस, संविधान दिवस) (1 दिसंबर- विश्व एड्स दिवस) (2 दिसंबर- कंप्यूटर साक्षरता दिवस) (3 दिसंबर- अंतरराष्ट्रीय विकलांग जन दिवस, भोपाल गैस त्रासदी स्मृति दिवस) (4 दिसंबर- नौसेना दिवस) (7 दिसंबर- झंडा दिवस) (9 दिसंबर- अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस) (10 दिसंबर- अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस) (14 दिसंबर- राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस) (22 दिसंबर- राष्ट्रीय गणित दिवस) (23 दिसंबर- किसान दिवस) (24 दिसंबर-राष्ट्रीय उपभोक्ता अधिकार दिवस) (25 दिसंबर- राष्ट्रीय सुशासन दिवस) ----- भारत-भूटान ने द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा की। महिला मुक्केबाजी: मैरीकॉम सेमीफाइनल में पहुंचीं।
राजीव गांधी खेल रत्न 2018- विराट कोहली (क्रिकेट) राजीव गांधी खेल रत्न 2018- एस मीराबाईचानू (भारोत्तोलन)
लोकसभा की राज्यवार सीटें- बिहार-40 झारखंड-14 जम्मू कश्मीर-6 हिमाचल प्रदेश-4 तमिलनाडु-39 छत्तीसगढ़- 11 मध्य प्रदेश- 29 पश्चिम बंगाल- 42 उत्तर प्रदेश- 80 उत्तराखंड- 5 तेलंगाना- 17 आंध्र प्रदेश- 25 केरल -20 असम- 14 महाराष्ट्र- 48 ओडिशा- 21 पंजाब- 13 गुजरात -26 अरुणाचल प्रदेश- 2 सिक्किम -1 राजस्थान- 25 मणिपुर-2 त्रिपुरा- 2 मेघालय-2 हरियाणा -10 नागालैंड-1 गोवा- 2 मिजोरम- 1 कर्नाटक- 28 दिल्ली-7 दमन एवं दीव-1 अंडमान निकोबार-1 लक्षद्वीप- 1 दादर और नगर हवेली- 1 चंडीगढ़-1 पुड्डुचेरी-1
मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक, जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन, राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह, त्रिपुरा के राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी, मेघालय के राज्यपाल तथागत रॉय, झारखंड की राज्यपाल द्रोपदी मुर्मू।