5 साल के लिए कहीं 'पहुना' न बन जाएं भूपेश !

रायपुर: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज यहां राज्य अतिथि गृह ‘पहुना’ में पेण्ड्रावन जलाशय संघर्ष समिति के
प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की और उन्हें मुख्यमंत्री बनने पर बधाई दी। समिति के अध्यक्ष घनश्याम वर्मा के नेतृत्व में इस प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने 2500 रूपए प्रति क्विंटल की दर पर समर्थन मूल्य पर धान खरीदी और किसानों की कर्जमाफी के राज्य सरकार के फैसले के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रति आभार जताया। प्रतिनिधिमंडल ने रायपुर जिले के तिल्दा विकासखण्ड स्थित पेण्ड्रावन जलाशय का नामकरण छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के नेता डॉ. खूबचंद बघेल के नाम पर करने और इस जलाशय के नजदीक डॉ. खूबचंद बघेल की प्रतिमा स्थापित करने के संबंध में मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा। प्रतिनिधिमंडल में ग्राम पंचायत खौना, बंगोली, रायखेड़ा और धनसुली के सरपंच सहित बड़ी संख्या में किसान शामिल थे। बता दें कि 15 साल सत्ता से दूर रहने के बाद कांग्रेस को छत्तीसगढ़ की सत्ता हासिल हुई है। इससे इनकार नहीं किया जा सकता कि इस जीत के लिए भूपेश बघेल ने कड़ी मशक्कत की। विपक्ष में रहकर तत्कालीन रमन सरकार को अलग-अलग मुद्दों पर घेरते रहे। जाहिर है मुख्यमंत्री बनने के बाद जनता की भूपेश बघेल से उम्मीदें काफी हैं। देखने वाली बात होगी कि वो अगले पांच सालों में जनता की उम्मीदों पर कितने खरे उतरते हैं?

Comments