'ऑपरेशन प्रहार' से हारेगा आतंकवाद

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों ने 6 आतंकियों को मार गिराया  है। त्राल के अवंतीपोरा में चले इस मुठभेड़ में
सुरक्षाबलों को ये सफलता मिली है। जिस तेजी के साथ आतंकी मार गिराए जा रहे हैं उससे साफ है कि आने वाले दिनों में जम्मू कश्मीर में आतंकवाद का सफाया हो जाएगा। पिछले हफ्ते पुलवामा में हुई मुठभेड़ में मोस्ट वान्टेड आतंकी जहूर ठोकर समेत तीन आतंकीवादी मारे गए थे। इस मुठभेड़ के बाद सुरक्षा बलों और स्थानीय लोगों के बीच संघर्ष हो गया, जिसमें कई लोग मारे गए और कई घायल हो गए। इस मुठभेड़ में एक जवान शहीद भी हुआ। रिपोर्ट के मुताबिक इस साल अब तक सेना ने 250 से ज्यादा आतंकियों को मार गिराया है। जबकि पिछले साल सुरक्षा बलों ने 213 आतंकियों को मार गिराया था। पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद का हश्र यही होना चाहिए। सेना को जम्मू कश्मीर के कोने-कोने में छिपकर बैठे आतंकियों को चुन-चुन कर मारना होगा तभी घाटी में आतंकवाद पर नकेल कसा जा सकेगा और अशांत जम्मू कश्मीर को शांत वातावरण मिलेगा। 6 महीने तक राज्यपाल शासन रहने के बाद अब जम्मू कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लागू है। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि राज्य में शांति और समृद्धि का माहौल तैयार होगा।

Comments